कांग्रेस और भारत एक दूसरे के पर्यायवाची है।

कांग्रेस और भारत एक दूसरे के पर्यायवाची है।

कांग्रेस मतलब भारत देश:

कांग्रेस के झंडे के नीचे पूरा देश एकजुट हुआ और देश की आजादी में अपना सक्रिय योगदान दिया.

सदियों की गुलामी की बेड़िया हमने अपने पूर्वजो के निस्वार्थ बलिदान स्वरूप तोडी.

१-बच्चे, युवा, महिलाएं, बुजुर्ग , सम्पूर्ण समाज ने अपना सामूहिक योगदान दिया था आजादी की जंग में
२-महात्मा गाँधी जी, जवाहर लाल नेहरू , सुभाष चंद्र बोस , लाला लाजपत राय, डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद, श्री लाल बहादुर शास्त्री, श्रीमती इंदिरा गाँधी, सरदार भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु. इन सार्वकालिक महान देशभग्तो के निस्वार्थ प्रयास के फलस्वरूप आज देश विश्व के सामने सीना तानकर खड़ा है.
४-जब आजादी की जंग चल रही थी उस समय भी कुछ स्वार्थी एवं उपद्रवी तत्वों ने एक संगठन बनाकर भोले भाले लोगो को बरगलाकर आजादी के आंदोलन को कुचलने की साजिश रची थी जिसमे आंशिक रूप से वो तत्व कामयाब हुए, देश आजाद हुआ मगर हमारा घर टूट गया, आज भी उसी साजिश के कारण दोनों तरफ कही कम कही ज्यादा हमारे सैनिक शहीद होते रहते है. इंसान का जीवन सिर्फ एक बार मिलता है अच्छे कर्म करके इसको सफल कर सकते है, कौन से लोग / देश इस महाद्वीप में शांति नहीं रहने देना चाहते,
१-उन देशो के बनाये युद्ध के हथियार कौन खरीदेगा.
२-हर चीज का बाजारीकरण हो चूका है. अब सबसे बड़ी जिम्मेदारी शांतिप्रिय पूरी जनता की है की लाखो शहीदों का बलिदान बेकार न जाने पाए:
१- जो नेता, जाति, धर्म, के नाम पर उत्तेजक भाषण करके हमको आपस में बाटना चाहे उसको एक भी वोट न मिलने पाए ये हमें सुनिश्चित करना होगा. ( ये बिके हुए है देश तोड़ने वालो के हाथ )
२-युद्धोन्माद ( जान बूझकर समाज में गलत खबरों को चलाकर लोगो को भड़काना ) फ़ैलाने वाले हर व्यक्ति को चिन्हित कर उसका सामाजिक बहिस्कार करे. ( युद्ध सामग्री बनाने वाले देशो से पैसा खा चुके है, या किसी न किसी तरह समाज में शांति नहीं चाहते).
जो नेता या राजनितिक दल समाज की उन्नति , रोजी , रोटी , शिक्षा स्वास्थ्य, आपसी प्रेम, भाईचारा की बात करे इस चुनाव में उसी का साथ दीजिये.

जय हिन्द जय भारत

Akhilesh Srivastava

Leave a Reply